Daily Current Affairs (Hindi) - 13.08.2018

National

निर्मला सीतारमण ने पंजाब में हुसैनीवाला सीमा पर बना पुल राष्‍ट्र को समर्पित किया

फिरोजपुर के हुसैनीवाला अंतर्राष्ट्रीय बार्डर पर रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमन ने आर्गेनाइजेशन (बी.आर. ओ.) की ओर से चेतक प्रोजैक्ट के अंतर्गत सतलुज दरिया पर बनाए गए 280 फुट लंबे पुल को राष्ट्र को समर्पित किया।यह पुल 1971 के भारत-पाकिस्तान युद्ध में उड़ा दिया गया था। रक्षा मंत्री ने कहा कि पुल से न सिर्फ भारतीय सशस्त्र बलों को बल्कि स्थानीय लोगों को भी काफी मदद होगी। उन्होंने कहा कि हुसैनीवाला ऐतिहासिक और पवित्र स्थल है और शहीद भगत सिंह, सुखदेव, राजगुरू से लेकर कई स्वतंत्रता सेनानियों व युद्ध नायकों की स्मृतियां इससे जुड़ी हुई हैं।  बीआरओ ने देश के दूरस्थ और दुरूह क्षेत्रों में 52000 किमी सड़कें, 650 स्थायी पुल और 11 एयरफील्ड का निर्माण किया है। पुराने फिरोजपुर-लाहौर महामार्ग पर सतुलज नदी पर बना पुल हुसैनीवाला के दस गांवों को देश से जोड़ता है। 1971 के भारत पाकिस्तान युद्ध के बाद एक अस्थायी पुल बनाया गया था जिसके स्थान पर स्थायी और पक्का पुल बनाने के लिए प्रोजेक्ट चेतक शुरू किया गया।

1971 की लड़ाई में पुल का रहा अहम रोल: तीन दिसंबर, 1971 में भारत-पाकिस्तान युद्ध के दौरान हुसैनीवाला पुल ने ही फिरोजपुर को बचाया था। उस समय पाक सेना ने भगत ¨सह, राजगुरु व सुखदेव के शहीदी स्थल तक कब्जा कर लिया था। मेजर कंवलजीत ¨सह संधू व मेजर एसपीएस बड़ैच ने इसे बचाने के लिए पटियाला रेजीमेंट के 53 जवानों सहित जान की बाजी लगा दी थी। अंत में सेना ने पुल उड़ाकर पाकिस्तानी सेना को देश में प्रवेश करने से रोका था। उसके बाद यहां लकड़ी का पुल बनाकर हुसैनीवाला सीमा पर जाने का रास्ता तैयार किया गया था। 1973 में तत्कालीन मुख्यमंत्री ज्ञानी जैल सिंह ने पाकिस्तान के साथ समझौता कर फाजिल्का के 10 गांवों को पाकिस्तान को सौंपकर शहीदी स्थल को पाक के कब्जे से मुक्त करवाया था।

International

विश्‍व हाथी दिवस: 12 अगस्‍त

12 अगस्त को प्रतिवर्ष विश्व गज दिवस का रूप में मनाया जाता है हाथी के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए विश्‍व हाथी दिवस (WED) मनाया जा रहा है।भारत में इस दिन भारतीय वन्यजीव ट्रस्ट व पर्यावरण, वन तथा जलवायु परिवर्तन मंत्रालय द्वारा गज महोत्सव का आयोजित किया जाता है। इसका उद्देश्य पेंटिंग तथा चित्रों द्वारा हाथियों की स्थिति के बारे में लोगों को अवगत करवाना है।

पृष्ठभूमि:

  • पहली बार 12 अगस्त, 2012 को अंतर्राष्ट्रीय गज दिवस के रूप में मनाया गया था।
  • इसकी शुरुआत 2011 में सबसे पहले माइकल क्लार्क तथा पेट्रीशिया सिम्स (कनाडाई फिल्म निर्माता) ने की थी।
  • इसका उद्देश्य हाथियों के संरक्षण के प्रति जागरूकता फैलाना, हाथियों के प्राकृतिक आवास की सुरक्षा तथा हाथी दांत के अवैध व्यापार पर रोक लगाना है।
  • विश्व भर के कुल 65 वन्यजीव संगठनों द्वारा इस दिवस को मनाया जाता है।
  • IUCN की रेड लिस्ट में अफ्रीकी और एशियाई हाथी को असुरक्षित प्रजाति के रूप में रखा गया है।
  • वर्तमान में अफ्रीकी हाथियों की जनसँख्या लगभग 4 लाख है जबकि एशियाई हाथियों की जनसँख्या लगभग 40 हज़ार है।

Science & Tech

 

नासा ने ‘टच द सन’ मिशन के तहत पार्कर सोलर प्रोब लॉन्‍च किया

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने सूरज को छूने (टच द सन) के अनोखे मिशन पर पहली बार एक छोटी कारनुमा यान 'पार्कर सोलर प्रोब' लॉन्च किया. यह यान सूर्य के वातावरण या कोरोना में जाने के लिए डिजाइन किया गया है. इतिहास में अब कोई भी अंतरिक्ष यान सूर्य के इतने करीब नहीं पहुंचा है.इस प्रोब का नाम सौर वैज्ञानिक यूजीन पार्कर के नाम पर रखा गया है, जिन्होंने 1958 में पहली बार अनुमान लगाया था कि सौर हवाएं होती हैं, ये कणों और चुंबकीय क्षेत्रों की धारा होती हैं, जो सूर्य से लगातार निकलती रहती हैं. जब ये धाराएं तेजी से निकलती हैं, तो इसके कारण धरती पर उपग्रह लिंक प्रभावित होता है.

कोरोना:

  • कोरोना प्लाज्मा से बना होता है

  • यह वायुमंडल की तरह सूर्य और तारों को चारों ओर से घेरे रहता है.

  • अस्वाभाविक रूप से इसका तापमान सूर्य के सतह से 300 गुना ज्यादा होता है.

  • इससे शक्तिशाली प्लाज्मा और तीव्र ऊर्जा वाले कणों का उत्सर्जन भी होता है, जो धरती पर स्थित पावर ग्रिड में गड़बड़ी ला सकता है.

उद्देश्य: नासा के मिशन का उद्देश्य कोरोना के पृथ्वी की सतह पर पड़ने वाले प्रभाव का अध्ययन करना है. स्पेसक्राफ्ट के जरिये कोरोना की तस्वीरें ली जाएंगी और सतह का मापन किया जाएगा. पार्कर सोलर प्रोब का लक्ष्य अपने सात साल के मिशन में कोरोना के 24 चक्कर लगाने का है. इस यान में लगे उपकरण कोरोना के विस्तार और सौर वायु का अध्ययन करेंगे.

मुख्य तथ्य: इस यान को केवल साढ़े चार इंच (11.43 सेंटीमीटर) मोटी हीट रेसिसटेंट शील्ड से सुरक्षित किया गया है जो इसे सूर्य के तापमान से बचाएगी. यह अंतरक्षियान सूरज की सतह के सबसे करीब 40 लाख मील की दूरी से गुजरेगा. इस प्रॉजेक्ट पर नासा ने 103 अरब रुपये खर्च किए हैं। यह यान 9 फीट 10 इंच लंबा है और इसका वजन 612 किलोग्राम है. यह मिशन जब सूरज के सबसे करीब से गुजरेगा तो वहां का तापमान 2500 डिग्री सेल्सियस तक होगा.

पार्कर सोलर प्रोब का नाम:
अमेरिका की जॉन्स हॉपकिन्स अप्लाइड फिजिक्स लैब में तैयार ‘पार्कर सोलर प्रोब’ का नाम अमेरिकी खगोलशास्त्री यूजीन पार्कर के नाम पर रखा गया है.

पार्कर सोलर प्रोब क्‍या है? पार्कर सोलर प्रोब एक रोबोटिक स्पेसक्राफ्ट है. इसे छह अगस्त को फ्लोरिडा प्रांत के केप कैनावेरल से प्रक्षेपित किया गया. यह अंतरिक्षयान दूसरे यानों की तुलना में सूर्य के सात गुना ज्यादा करीब जाएगा.

सूर्य के करीब हेलिअस-2: जर्मनी की अंतरिक्ष एजेंसी और नासा ने मिलकर वर्ष 1976 में सूर्य के सबसे करीब हेलिअस-2 नामक प्रोब भेजा था. यह प्रोब सूर्य से 4.30 करोड़ किमी की दूरी पर था. धरती से सूर्य की औसत दूरी 15 करोड़ किमी है.

Appointment

गीता मित्‍तल

न्यायमूर्ति गीता मित्‍तल ने जम्मू-कश्मीर उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश के रूप में शपथ ग्रहण की।वह जम्मू-कश्मीर उच्च न्यायालय की पहली महिला मुख्य न्यायाधीश हैं।उन्हें जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल, एन.एन. वोहरा ने श्रीनगर के राजभवन में पद की शपथ दिलाई।न्यायमूर्ति मित्‍तल दिल्ली विश्‍वविद्यालय के कैंपस लॉ सेंटर की भूतपूर्व छात्रा हैं, और उन्‍होंने वर्ष 1981 में अभ्यास करना शुरू किया।उन्‍हें जुलाई, 2004 में दिल्ली उच्च न्यायालय की अतिरिक्‍त न्यायाधीश नियुक्‍त किया गया था, और फरवरी, वर्ष 2006 में स्‍थाई किया गया।वह अप्रैल, 2017 से दिल्‍ली उच्च न्यायालय की कार्यकारी मुख्य न्यायाधीश के रूप में कार्य कर रही हैं।

Games

नीरज चोपड़ा एशियाई खेल 2018 में ध्‍वजवाहक होंगे

स्टार भाला फेंक एथलीट नीरज चोपड़ा को 18 अगस्त को जकार्ता में होने वाले एशियाई खेलों के उद्घाटन समारोह के लिये आज भारतीय दल का ध्वजवाहक चुना गया। भारतीय ओलंपिक संघ (आईओए) के अध्यक्ष नरिंदर बत्रा ने आज दल के लिए आयोजित रवानगी समारोह के दौरान यह घोषणा की। एशियाई खेलों का आयोजन 18 अगस्त से दो सितंबर तक जकार्ता और पालेमबांग में किया जायेगा। 20 वर्षीय नीरज मौजूदा राष्ट्रमंडल खेलों के चैंपियन हैं और उन्होंने पिछले महीने फिनलैंड में सावो खेलों में स्वर्ण पदक जीता था। नीरज ने 2017 में एशियाई एथलेटिक चैंपियनशिप में 85.23 मीटर के थ्रो से स्वर्ण पदक अपने नाम किया था। उन्होंने पोलैंड में 2016 आईएएएफ विश्व अंडर-20 चैम्पियनशिप में भी स्वर्ण पदक हासिल किया था।

Death

वी.एस. नायपॉल

साहित्य के नोबेल पुरस्कार विजेता ब्रिटिश लेखक वी.एस. नायपॉल (85 वर्षीय) का लंदन में निधन हो गया।उन्‍होंने लगभग 30 पुस्‍तकें लिखी हैं, हालांकि उपन्यास "ए हाउस फॉर मिस्‍टर बिस्‍वास" के लॉन्‍च होने से उन्‍हें अधिक प्रसिद्धि मिली थी।उन्होंने साहित्य का नोबेल पुरस्कार (वर्ष 2001 में) और बुकर पुरस्कार (वर्ष 1971 में) जीता।उनका जन्म त्रिनिदाद में हुआ था, वे भारतीय मूल के थे और नागरिकता के संदर्भ में वह ब्रिटिश थे।