Daily Current Affairs (Hindi) - 31.07.2018

राष्ट्रीय

ओडिशा अक्टूबर से अपने खाद्य सुरक्षा अधिनियम को लागू करेगा

ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने शनिवार को घोषणा की कि दो अक्टूबर को गांधी जयंती पर राज्य में खाद्य सुरक्षा योजना शुरू की जाएगी। यह योजना करीब 34.44 लाख लोगों को लाभ पहुंचाएगी, जिन्हें राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम (एनएफएसए) से बाहर कर दिया गया था।पटनायक ने कहा, जैसा कि मैंने आपसे 2014 में अपनी खाद्य सुरक्षा योजना लागू करने का वादा किया था, इसे दो अक्टूबर से शुरू किया जाएगा, क्योंकि एनएफएसए से हमारे बहुत से पात्र लाभार्थी वंचित थे।आमा मुख्यमंत्री आमा कथा’ के दौरान लोगों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, मैं हमारे राज्य के एक भी गरीब व्यक्ति को खाद्य सुरक्षा से वंचित नहीं रहने दूंगा।

पटनायक ने कहा कि राज्य में बड़ी संख्या में गरीब लोग हैं, जिन्हें 2011 जनगणना के मुताबिक केंद्र द्वारा लागू योजना एनएफएसए के तहत शामिल नहीं किया गया।ओडिशा के मुख्यमंत्री ने जनसंख्या में वृद्धि के कारण वंचित लाभार्थियों को योजना में शामिल करने का मुद्दा कई बार केंद्र के समक्ष उठाया था। हालांकि इस संबंध में कोई कदम नहीं उठाया गया।
पटनायक ने कहा कि राज्य सरकार ने हमेशा ही खाद्य सुरक्षा को महत्व दिया है। वह 2008 से दो रुपये प्रति किलोग्राम चावल मुहैया करा रही है। जिसके बाद सरकार ने 2013 से गरीबों के लिए एक रुपये प्रति किलोग्राम चावल देने की सफल योजना चलाई थी। यह पूरे देश में खाद्य सुरक्षा के लिए एक मील का पत्थर है।

विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी

बोमबली: सिएरा लियोन में इबोला की नईं प्रजाति खोजी गई

फ्रीटाउन (सिएरा लियोन)। सिएरा लियोन की सरकार ने देश में चमगादड़ों में इबोला का एक नया विषाणु पाए जाने की जानकारी दी है। 2 साल पहले इबोला के प्रकोप के खत्म होने की पुष्टि की बाद अचानक यहां फिर से नया विषाणु मिलने की खबर सामने आई है।इबोला विषाणु के प्रकोप के चलते पूरे पश्चिम अफ्रीका में 11,000 से ज्यादा लोगों की जान चली गई थी, हालांकि अभी तक यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि विषाणु की नई बोमबली प्रजाति घातक इबोला बीमारी का रूप ले सकती है या नहीं? अनुसंधानकर्ताओं का कहना है कि यह विषाणु मनुष्यों तक फैल सकता है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रवक्ता हरोल्ड थॉमस ने कहा कि एहतियाती तौर पर लोगों को चमगादड़ खाने से बचना चाहिए। इबोला का सबसे भयंकर प्रकोप दक्षिणी गिनी में दिसंबर 2013 से फैलना शुरू हुआ था, जो बाद में 2 पड़ोसी पश्चिम अफ्रीकी देशों- लाइबेरिया और सिएरा लियोन तक फैल गया था।

बॉम्बाली तनाव : इबोला वायरस का नया बॉम्बाली तनाव इसके अन्य वायरस उपभेदों से अलग है। यह अभी तक ज्ञात नहीं है कि क्या यह घातक बीमारी में विकसित हो सकता है। यह भी ज्ञात नहीं है कि अगर बॉम्बाली वायरस लोगों को संचरित किया गया है या यदि यह लोगों में बीमारी का कारण बनता है। हालांकि, परिणाम दिखाते हैं कि इसमें मानव कोशिकाओं को संक्रमित करने की क्षमता है। आगे के शोध में विशिष्ट जोखिमों के बारे में अधिक समझने में मदद मिलेगी।


खेल

मिस्र ने इंग्‍लैंड को हराकर विश्‍व जूनियर स्‍क्‍वैश टीम खिताब जीता

मिस्र ने रविवार को तीसरी सीड इंग्लैंड को 2-0 से हराकर विश्व जूनियर पुरुष टीम स्क्वैश चैंपियनशिप का खिताब जीत लिया।यह छठा मौका है जब मिस्र ने यह खिताब जीता है। उसने आखिरी बार नामीबिया में 2014 में यह खिताब जीता था। इंग्लैंड को रजत पदक से संतोष करना पड़ा। चेक गणराज्य और अमेरिका को कांस्य पदक मिला। मेजबान भारत ओवरआल 11वें स्थान पर रहा।

पुरस्कार

तीसरा ब्रिक्स फिल्म समारोह भारत दिवस के साथ संपन्न

तीसरा ब्रिक्स फिल्म समारोह दक्षिण अफ्रीका के डरबन में अंतर्राष्ट्रीय डरबन फिल्म समारोह (डीआईएफएफ) के साथ 22-27 जुलाई, 2018 को संपन्न हुआ। समारोह के अंतिम दिवस को भारत दिवस के रूप में मनाया गया। उसके बाद पुरस्कार दिए गए और समापन समारोह हुआ।

तीसरे ब्रिक्स फिल्म समारोह, डरबन, दक्षिण अफ्रीका में भारतीय फिल्मों में पुरस्कार विजेताः

  • सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्रीः भनिता दास, विलेज रॉक स्टार्स
  • सर्वश्रेष्ठ फिल्मः अमित मासुरकर की न्यूटन
  • विशेष जूरी पुरस्कारः रीमा दास की विलेज रॉक स्टार्स

ब्रिक्स फिल्म समारोह: फिल्म समारोह का उद्देश्य ब्रिक्स देशों के विश्व स्तरीय फिल्म निर्माण का उत्सव मनाना है तथा इन देशों में फिल्म के क्षेत्र में अधिक सहयोग को प्रेरित करना है। समारोह में स्पर्धा श्रेणी में प्रत्येक देश की दो फीचर फिल्में दिखाई गई और गैर-स्पर्धा श्रेणी में तीन फीचर फिल्में दिखाई गईं। समारोह में कुल 24 फिल्में दिखाई गईं। स्पर्धा श्रेणी में फिल्मों ने गोल्डन राइनो पुरस्कार के लिए स्पर्धा की। इतिहास के अनुसार गोल्डन राइनो की खोज मापुन गुबवे में की गई। पहले की शताब्दियों में अन्य देशों के साथ इस स्थान के संपर्क का महत्व है।